छुट्टी नहीं मिलने पर इस BSF के जवान को आया इतना गुस्सा कि ऑफिसर के…

अपने घर परिवार से दूर सेना के जवान किस मानसिक स्थिति में रहतें है. इसका अंदाजा हम इस घटना से लगा सकते हैं. जब BSF के एक जवान को छुट्टी नहीं मिली तो उसने अपने ऑफिसर के सीने में 6 गोलियां दाग दी. जिससें ऑफिसर की मौके पर ही मौत हो गई.

अंग्रेजी न्यूज़ पेपर ‘द हिंदू’ के अनुसार  केरल के कोझीकोड जिले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के हेड कॉन्सटेबल ने अपने ही बटालियन के एक बीएसएफ इंस्पेक्टर की गोली मारकर हत्या कर दी. वह वडकरा के पास चुनाव में ड्यूटी पर तैनात था. यह घटना गुरुवार को कोट्टक्कल इस्लामिक एकेडमी स्कूल में लगे बीएसएफ कैम्प में साढ़े ग्यारह बजे देर रात के करीब हुई.

मृतक इंस्पेक्टर की पहचान  45 वर्षीय राम गोपाल मीना है और वह राजस्थान के रहने वाले थे. घटना के बाद आरोपी जवान जिसका नाम उमेश पाल यादव बताया जा रहा है. जो अपनी राइफल के साथ घटना के बाद फरार हो गया है. उमेश उत्तर प्रदेश का रहने वाला है.

source- tehelka.com
source- tehelka.com

आपको बता दे कि अभी तक इस घटना को लेकर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है कि आखिर जवान ने ऑफिसर को क्यों गोलियां मारी? लेकिन अनाधिकारिक तौर पर अंदर से यह खबरें आ रही है कि जवान और ऑफिसर के बीच में छुट्टी को लेकर आपस में बहस हुई और लड़ाई हो गई जिसके बाद जवान ने ऑफिसर पर गोलियां चला दी. सभी जवानों की यहां चुनाव के लिए ड्यूटी लगी थी. बताया जा रहा है की ऑफिसर शरीर में लगभग 6 गोलियां दागी गई हैं. फ़िलहाल ऑफिसर का शव वडकरा कोऑपरेटिव हॉस्टिपल में रखा गया है.

हालांकि सेना में यह इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी सेना में एक साथी ने अपने दुसरे साथीयों पर गोलियां चलाई हैं.

LEAVE A REPLY