लड़कियाँ ले रही हैं हिंदुओं की रक्षा के लिए ट्रेनिंग, जानिए क्या है मकसद?

अयोध्या और नोएडा में बजरंग दल के ट्रेनिंग कैंप का विवाद अभी थमा भी नहीं है कि अब वाराणसी में विश्व हिंदू परिषद की महिला शाखा दुर्गावाहिनी और मातृशक्ति महिलाओं को हथियार चलाना सिखा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हिन्दू लड़कियां हथियार चलाने की ट्रेनिंग ले रही हैं।

Girls are Having Training for Indian Safety
इससे पहले विहिप फैजाबाद और नोएडा में ऐसा ही ट्रेनिंग सेंटर शुरू कर चुकी है। पहली बार लड़कियां इन ट्रेनिंग सेंटरों में दिख रही हैं।

दावा किया जा रहा है कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और आतंकियों से लोहा लेने के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है। ट्रेनिंग कैंप में 11 जिलों की लड़कियां और महिलाएं शामिल हैं।

ज़रूर देखें: बिहार में सरकारी नौकरी पाना हुआ आसान

बजरंग दल के ट्रेनिंग कैंप की वर्ग अधिकारी कहती हैं कि महिलाओं को ये ट्रेनिंग इसलिए  दी जा रही है क्योंकि आतंकी महिलाओं के हाथों नहीं मरना चाहते हैं। उनका मानना है कि ऐसे में उन्हें मरने के बाद जन्नत नहीं मिलेगी।

बजरंग दल की ट्रेनिंग में एक हफ्ते से इन्हें बंदूक चलाने और निशाना साधने के गुर सिखाए जा रहे हैं ताकि ये आत्मनिर्भर बनें और आतंकियों से लोहा ले सकें।

LEAVE A REPLY