बर्थडे स्पेशल- नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी के बर्थडे पर जानिए उनकी सफलता का राज़

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी का जन्म उत्तरप्रदेश के मुज्ज़फरनगर के एक छोटे से गाँव बुढ़ाना में हुआ था। उनके पिता एक गरीब किसान थे।

आज नवाज़ुद्दीन सफलता के जिस शिखर पर हैं वहाँ पहुँचना कोई आसान बात नही है। लेकिन उनकी इस सफलता के पीछे एक राज़ है। आइये आपको बताते हैं उनके इस राज़ के बारे में।

दिखने में नवाज़ुद्दीन बहुत ही साधारण से थे। स्वभाव से भी शांत और शर्मीले। ना रंग-रूप, ना ही हैसियत ना ही बातूनी। फिर भी उन्हें अपने गांव की एक लड़की से प्यार हो गया। गांव को गलियों में आपने अक्सर चोरी छिपे प्यार को पनपते देखा ही होगा। और बुढ़ाना की गलियों मे ही नवाज़ुद्दीन को भी इश्क हो गया।
चलिए अब बात को ज्यादा ना घुमाते हुए सीधे ले चलते हैं आपकी उनकी प्रेम कहानी से रूबरू करवाने।

Nawazuddin Siddiqui
Nawazuddin Siddiqui

नवाज़ुद्दीन थे तो शांत और शर्मीले, लेकिन अपने गांव की ही एक लड़की को अपना दिल दे बैठे। मगर अफसोस ये प्यार एकतरफा था। वो लड़की उनके घर के बगल में ही रहती थी और उन्हें बहुत पसंद थी।
वो लड़की अपने घर से बहुत कम बाहर निकलती थी लेकिन नवाज़ुद्दीन की नज़रें हमेशा उसे ढूंढती रहती थीं। हाँ, पर वो लड़की टी वी देखने के लिए घर से निकलती थी क्योंकि उस जमाने में घरों में टी वी नही होते थे और वो लड़की किसी और के घर टी वी देखने जाने के लिए निकलती थी। और उस समय वह अकेली होती थी।

जरुर देखिये: यहां ‘सूअरों’ के बीच है हनी सिंह के गानों का खौफ

एक दिन नवाज़ुद्दीन ने हिम्मत दिखाई और रास्ते में लड़की को रोकते हुए बोले-” टी वी में क्या रखा है, हमसे बात कर लो।”  लड़की ने जवाब दिया टी वी देखना ज्यादा जरूरी है। यह बात उनके दिल में चुभ गई। उन्होंने लड़की को जाते हुए पीछे से आवाज़ लगाकर कहा ‘तुमसे वादा करता हूं, एक दिन टीवी पर आकर दिखाऊंगा।’

और सालों के लंबे संघर्ष के बाद आखिर उन्हें टी वी पर आने का मौका मिल ही गया। नवाज़ुद्दीन ने अपने एक दोस्त को फोन करके कहा कि उस लड़की को बता दो कि मैं टी वी पर आ रहा हुँ। लेकिन जब उनके दोस्त ने उन्हें यह बताया कि उसका निकाह हो गया है तब उनका दिल टूट गया। और उनकी प्रेम कहानी का भी अंत हो गया।

लेकिन जो भी हुआ इस असफल प्रेम कहानी का बेहद सकारात्मक परिणाम सामने आया। और आज वह अपनी जिंदगी के उस मुकाम पर हैं जह शायद वह कभी पहुंच भी नहीं पाते।

LEAVE A REPLY